संसार का सर्वाधिक शक्तिशाली व्यक्ति एंगस मैकेस्किल (हिन्दी)


बात आज से थोड़ी पुरानी है आज से लगभग सवा सौ साल पहले स्कॉटलैंड में एक अत्यंत शक्तिशाली युवा हुआ था जिसका नाम था एंगस मेकेस्किल।उसका जन्म हुआ था 1825 में और 1863 में उसकी मृत्यु हो गई यानी सिर्फ 38 वर्ष की आयू में। उसकी लंबाई थी 7 फुट 9 इंच और वजन था 193 किलोग्राम ।एंगस के कुल 12 भाई-बहन थे और सब के सब सामान्य शरीर वाले थे बचपन में उसके शरीर में भी कोई विशेष बात नहीं थी लेकिन जैसे-जैसे उसकी उम्र बढ़ती गई उसके भीतर असाधारण शक्ति आती चली गई और एक बार उसने अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया जब उसकी उम्र महज 14 साल थी और उसने एक इतना बड़ा लट्ठा जिसे उठाने के लिए कम से कम 10 लोग लगते उसने उस लट्ठे को अकेले उठाकर आरा मशीन तक पहुंचा कर उसे काट भी डाला था और 14 वर्ष की आयु के पश्चात उसकी आकार में वृद्धि होने लगी और 19 साल का होते होते उसकी लंबाई 7 फुट 9 इंच हो गई इतना तीर का और ताकतवर होने के बावजूद उसकी खुराक एक सामान्य व्यक्ति जितनी ही थी उसके बारे में एक मजेदार बात है कि उसके जूते इतने बड़े थे कि एक बार उसके जूतों में एक बिल्ली ने अपने बच्चे दे दी और 21 दिन तक वह बच्चे उसके जूते में ही रहे वह जूते आज भी म्यूजियम में रखे हुए हैं एक बार एंगस को महारानी विक्टोरिया ने अपने दरबार में बुलाया और उससे कहा कि वह अपनी शक्ति का प्रदर्शन करें तब एंगस ने बिल्कुल ही अनोखे अंदाज में अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया उसने अपने पैर से फर्श को दबाना शुरू कर दिया और उस पत्थर के फर्श पर उसके पैर का निशान छप गया जो आज तक वहां पर बना हुआ है । ऐसा ही एक और वाकया है उसकी ताकत का जबएक बार कहीं जा रहा था और एक बहुत बड़ा भारी ट्रक एक गड्ढे में फस गया था जिसे 10 लोग भी मिलकर निकाल नहीं पा रहे थे यह देखकर ऐसे ही खींच कर उसको उस गड्ढे से बाहर निकाल दिया वहबहुत ही विनम्र स्वभाव का था और लड़ाई झगड़े से दूर रहता था लेकिन उसे एक बार एक मुक्केबाज ने प्रतियोगिता के लिए आमंत्रित किया फिर भी लड़ने के लिए राजी नहीं हुआ तो उसने एंगस को काफी भला बुरा कहा उसके बाद इस मुकाबले के लिए तैयार हो गया लेकिन मुकाबले से पहले ही जैसे दोनों लोग आमने सामने आए और उन लोगों ने हाथ मिलाया तो एंगस ने हाथ मिलाते ही उसके हाथ को दबाकर चकनाचूर कर दिया उस मुक्केबाज की हथेली की सारी हड्डियां टूट गयी और वो जीवन भर के लिए विकलांग हो गया। एंगस अक्सर शर्त लगाकर अपनी शक्ति का प्रदर्शन किया करता था और जिसमें वह हमेशा सफल भी हुआ करता था तो ऐसे ही एक बार वह एक जगह गया और उसने 1000 किलोग्राम के एक लंगर को उठाने की शर्त लगायी। लंगर को तो उसने अपने सर से ऊंचा उठा लिया लेकिन लंगर से फिसल कर एक जंजीर उसके कंधे पर गिरी और उसके कंधे पर गहरी चोट बन गई और वही जख्म धीरे-धीरे बढ़ता चला गया और उसका स्वास्थ्य खराब होता और इस जख्म की वजह से कुछ समय बाद उसकी मृत्यु हो गई |

0 views